किचन गार्डनिंग कैसे करें? Kitchen Gardening, Practical Steps (A to Z)


किचन गार्डनिंग कैसे करें? Kitchen Gardening, Practical Steps (A to Z)

 क्या आप भी किचन गार्डनिंग करने की तैयारी कर रहे हैं? तो हम आपको बताएँगे इसके बारे में सब कुछ।  किचन गार्डनिंग, टेरेस गार्डनिंग को लेकर आपको किन चीजों की जरुरत पड़ेगी, और शुरुआत कैसे करेंगे यह सब जानकारी आपको इस पोस्ट के माध्यम से आप सभी को देने की पूरी कोशिश की जा रही है। 


तो आईये जानते हैं इसके बारे में....

गार्डनिंग के कौन कौन से हैं विकल्प? (What are the alternatives to gardening?)

गार्डनिंग करने का विचार बना रहे हैं और आप शहर में रह रहे हैं, तो आपके पास गार्डनिंग करने के दो विकल्प मौजूद हैं। जिनमें पहला है टेरिस गार्डन और दूसरा बालकनी गार्डनिंग। 

अगर आपके पास छत की सुविधा है, तो आप आसानी से अपने छत पर मिट्टी के गमले, सीमेंट के गमले और प्लास्टिक के गमले की सहायता से आसानी से अपने छत पर सब्जियों को उगा सकते हैं। वहीं आपके पास छत नहीं है, तो आप बालकनी में भी आसानी गार्डनिंग कर सकते हैं। 

आप अपनी बालकनी में भी तमाम सब्जियों को ऊगा सकते हैं जिनमें धनिया, टमाटर, बैंगन, हरी मिर्च जैसी सब्जियों के तमाम ऑप्शन उपलब्ध हैं। आप बालकनी में भी क्रीपर नेट की सहायता से आसानी से बेल वाली सब्जियों जैसे लौकी, तोरई, खीरा, कद्दू , करेला भी उगा सकते हैं।

पीवीसी पाइप 'गार्डनिंग' के लिए बन रहा है बेहतर विकल्प! ( PVC pipe is becoming a better option for 'gardening'!)
पीवीसी पाइप के माध्यम से गार्डनिंग को और ज्यादा आसान बनाने का लगातार प्रयास किया जा रहा है और इसे तेजी से प्रचारित और प्रसारित भी किया जा रहा है। 

बता दें कि एक गमले के बराबर जगह लेने वाले पीवीसी पाइप में आप कम से कम 12 से 15 सब्जियों के पौधे उगा सकते हैं। 
जी हां! आपको आश्चर्य करने की आवश्यकता नहीं है! कई सारे गार्डनर इस दिशा में कार्य कर रहे हैं और पीवीसी पाइप में सब्जियों को उगाने के बारे में लोगों को जानकारी भी दे रहे हैं। 

कई सारी कंपनियां तो रेडीमेड सलूशन भी आपको दे रही हैं, जहां पीवीसी पाइप में पौधों को उगा कर सीधे आपको सेल कर दिया जा रहा है। इसमें आपको बेसिक लेवल पर मेहनत करने की आवश्यकता नहीं पड़ रही है और लगभग फ्रूटिंग के लिए तैयार पौधे आप आसानी से खरीद कर घर ला सकते हैं और उन्हें सिर्फ पानी डालें और ताजी सब्जियों को तोड़ कर खा सकते हैं।


कैसे करें गार्डनिंग की शुरुआत? (How to start gardening)

अगर आप नया नया गार्डनिंग शुरू करने जा रहे हैं और इससे पहले आपको गार्डनिंग का कोई विशेष अनुभव नहीं है, तो आपको बता दें कि आपको बहुत ज्यादा इन्वेस्टमेंट से बचना चाहिए और अपने छत पर पालक, धनिया, चौड़ाई, टमाटर जैसे हर मौसम में उगने वाली सब्जियों से शुरुआत करनी चाहिए। 

फिर धीरे-धीरे जब इनको सफलतापूर्वक अपने छत पर उगा लेंगे, उनकी देखभाल कर लेंगे तो आपका कॉन्फिडेंस बढ़ने लगेगा और इसके बाद कई तरीके की सब्जियों को अपने छत पर उगा सकते हैं। इसके अलावा आपको शुरू में छोटे गमले चुनना चाहिए और 2  -4 पौधों से इसकी शुरुआत करनी चाहिए।


गार्डनिंग को कैसे बनाएं कमाई का संसाधन? (How to make gardening a source of income?)

अगर आप लंबे समय से गार्डनिंग कर रहे हैं और अपने छत पर फल और सब्जियों का उत्पादन कर रहे हैं, तो आपके सामने कमाई करने के कई सारे साधन उपलब्ध हैं। इसमें सबसे पहले आप अपना ब्लॉग बना कर सब्जियों को कैसे उगाया जाए ,उनकी देखभाल कैसे की जाए, कौन सी सब्जियां किस मौसम में लगाई जाती हैं, बीज कहां से खरीदें आदि की जानकारी देकर आसानी से पैसा कमा सकते हैं। 

इसके अलावा आप यूट्यूब पर वीडियो बनाकर अपनी बागवानी के बारे में वीडियो के माध्यम से लोगों को जानकारी देकर भी अच्छा खासा कमाई कर सकते हैं।

आप देखेंगे कि कई सारे गार्डनर जो इस दिशा में कार्य कर रहे हैं, वह लगातार वीडियो बनाकर लोगों को जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं और भारी संख्या में लोग उनके चैनल को सब्सक्राइब भी किए हुए हैं। तो आप भी अगर गार्डनिंग की जानकारी रखते हैं, तो अपना यूट्यूब चैनल बनाएं और वीडियो अपलोड करके मोटी कमाई कर सकते हैं।

इसके अलावा अगर आप भारी मात्रा में सब्जी उगा रहे हैं, तो आपने आस-पड़ोस या किसी पर्टिकुलर सोसाइटी में सब्जियों को बेचकर भी अच्छी कमाई कर सकते हैं।

जरूरी उपकरण  (Necessary Equipment)

पहली बार गार्डनिंग करने जा रहे हैं तो आपको बता दें कि इसके लिए आपको कुछ उपकरण की आवश्यकता पड़ेगी, जिसमें सबसे पहले आपको गमले या ग्रो बैग की जरुरत पड़ेगी, जिसे आप ऑनलाइन या लोकल मार्केट से खरीद सकते हैं। उसके अलावा खुरपी, जिसे करणी भी कहा जाता है, इसकी आवश्यकता पड़ेगी क्योंकि इसी खुरपी की सहायता से आप अपने पौधों को लगाएंगे तथा उन पौधों की गुड़ाई भी करेंगे। 

इसके अलावा जो सबसे जरूरी चीज है, वह है पानी देने की व्यवस्था, जिसमें आप चाहे तो टंकी से कनेक्शन करा कर एक पाइप लगवा सकते हैं और उस पाइप की सहायता से अपने पौधों को आसानी से पानी दे सकते हैं।

इन सबके अलावा आपको प्रूनिंग कैंची की भी आवश्यकता पड़ेगी जिसकी सहायता से आप पौधों की सूखी पत्तियों, डालियों की कटाई -छटाई आसानी से कर सकें। 

अगर आपके पास मिट्टी नहीं है, तो आपको मिट्टी और खाद की भी आवश्यकता पड़ेगी जिसके लिए आप अपने नजदीकी नर्सरी से संपर्क कर सकते हैं और वहां से अच्छी क्वालिटी की गार्डन सॉइल और कंपोस्ट खाद लाकर बागवानी की शुरुआत कर सकते हैं।


टेरेस गार्डनिंग के लिए पौधों का चुनाव (Selecting Plants for Terrace Gardening)

आप अपने छत पर गार्डनिंग की शुरुआत करने जा रहे हैं, तो इसके लिए सबसे पहले आपको पौधों का चुनाव भी करना होगा, जिसमें आप सब्जियों को भी चुन सकते हैं, जिनमें बैंगन, मिर्च, टमाटर, पालक, धनिया, पुदीना, गोभी, भिंडी, लौकी, कद्दू, तोरी, खीरा जैसी सब्जियों का चुनाव कर सकते हैं। 

इसके अलावा आप पपीता, अमरूद, नींबू जैसे फल भी अपने छत पर लगा सकते हैं। आप लेमन ग्रास, तुलसी, पुदीना जैसे पौधों को भी लगा सकते हैं, जो जड़ी-बूटी के रूप में भी प्रयोग किए जाते हैं। 

अगर आप को और अधिक जानकारी चाहिए तो आप ऑनलाइन इस बारे में जानकारी ले सकते हैं और एक चार्ट बना सकते हैं, कि किस मौसम में कौन सी सब्जियां उगाई जाती हैं। इसके अलावा आप 'वेज रूफ' से भी संपर्क कर सकते हैं। 

How Terrace Gardening Will Bring Positive Change In Our Lives!



इन्वेस्टमेंट (Investment)

जैसा कि आपको पहले ही बताया जा चुका है कि, अगर आप नए-नए गार्डनिंग की शुरुआत करने जा रहे हैं, तो आपको बहुत ज्यादा इन्वेस्टमेंट करने से बचना चाहिए। क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि आपको अनुभव नहीं होता है और आप शौकिया तौर पर गार्डनिंग के बहुत सारे इंस्ट्रूमेंट खरीद कर ले आते हैं और बाद में यह सारे बेकार पड़ जाते हैं। 

ऐसे में शुरू में आप वही सामान खरीदें जिनकी आवश्यकता बेसिक लेवल पर हो। वहीं अगर आप गार्डनिंग के तौर पर पीवीसी पाइप का चुनाव करते हैं, तो यह बेहद सस्ता सलूशन के रूप में आपके सामने उपलब्ध होगा। अगर आप इसका रेडीमेड सलूशन किसी कंपनी से आर्डर करते हैं, तो मात्र 2 से 3 हजार के बीच में आपको 10 से 12 पौधों से भरा एक पीवीसी पाइप जो कि 4 फुट की हाइट का पड़ेगा आपको मिल जाएगा। 

तो हमारा सुझाव यही होगा कि आप नए-नए गार्डनर हैं, तो आपको पीवीसी पाइप की टावर फार्मिंग पर ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है। पीवीसी पाइप का सबसे बड़ा फायदा है, कि यह आपकी छत या बालकनी में बेहद कम जगह लेता है और एक गमले की स्पेस में आपको 12 से 15 पौधों से फल सब्जियां आसानी से मिल जाती हैं।

वहीं इस पीवीसी पाइप में पौधों के रखरखाव में बेहद कम समय और बेहद कम एनर्जी भी लगती है। तो आधुनिक समय में गार्डनिंग के क्षेत्र में पीवीसी पाइप या टावर फार्मिंग काफी लाभदायक साबित होने वाली है।

गार्डनिंग के लिए कम्युनिटी बिल्डिंग (Community Building For Gardening)

अगर आप सीरियस तौर पर गार्डनिंग का मूड बना चुके हैं, तो आपको गार्डनिंग से रिलेटेड कम्युनिटी बिल्डिंग पर भी विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। 

आपको बता दें कि जब आप गार्डनिंग से जुड़े किसी कम्युनिटी का हिस्सा बनते हैं, तो आपको इस संदर्भ में कई सारी जानकारियां मिलती हैं, तो वहीं अगर आप इसे बिजनेस के तौर पर भी इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो यहां आपको इस दिशा में कई सारे लिंक भी मिल जाएंगे, जहां से आप अपने गार्डन से निकलने वाली सब्जियों को आसानी से सेल कर सकते हैं। 

वहीं कम्युनिटी में कई सारे ऐसे एक्सपर्ट गार्डनर भी उपलब्ध होंगे, जो गार्डनिंग से रिलेटेड टिप्स और जानकारी आपको मुहैया कराएंगे, जिनकी सहायता से आप अपनी टेरेस गार्डन या बालकनी के पौधों की देखभाल आसानी से कर सकेंगे। 

प्रोफेशनल्स की सहायता (Professional Assistance)

अगर आप नए-नए हैं और आपको बहुत ज्यादा गार्डनिंग का अनुभव नहीं है, तो बेवजह सिर पैर खपा कर अनुभव हासिल करने की बजाय आपको इस क्षेत्र में प्रोफेशनल की सहायता लेने से परहेज नहीं करना चाहिए। इसके लिए आप किसी नर्सरी से ट्रेनिंग ले सकते हैं। 

अगर यह आपके लिए संभव नहीं है, तो आजकल यूट्यूब पर तमाम गार्डनिंग के टिप्स और ट्रेनिंग वीडियो उपलब्ध हैं, जिन पर आप आसानी से गार्डनिंग से संबंधित जानकारी ले सकते हैं। इंटरनेट पर कई सारे गार्डनिंग के ब्लॉग  भी आपको मिल जाएंगे जिन्हें पढ़कर नोट्स बना कर आप इस क्षेत्र में महारत हासिल कर सकते हैं। 

इसके अलावा आप वेजरुफ से भी संपर्क कर सकते हैं, जहां आपको एक्सपर्ट की सहायता से बीज, खाद, मिट्टी और पौधों की देखभाल के बारे में अच्छी जानकारी उपलब्ध कराई जाती है।


इमरजेंसी में कैसे करें व्यवस्था (How to arrange in emergency)

यह तो हो गई गार्डनिंग की बात, लेकिन गार्डनिंग के ड्रॉबैक में सबसे बड़े कारण को देखा जाए तो वह यह है कि अगर आप कुछ दिनों के लिए घर से बाहर जाते हैं, तो आप के पौधों की देखभाल कौन करेगा, यह बड़ी समस्या रहती है। 

इसके लिए आप अपने पड़ोसियों की सहायता ले सकते हैं और उनके साथ अच्छे संबंध बना कर इमरजेंसी में अपने पौधों की देखभाल की जिम्मेदारी उन्हें सौंप सकते हैं। 




आप अपना किचन-गार्डन बनाएं, एवं घर की सब्जी घर में ही उगाएं.

यह अब वास्तविकता है, और आपको Ready-to-use प्लांट्स मिलते हैं, जिन्हें पानी के अतिरिक्त आपको किसी ख़ास देखरेख की आवश्यकता नहीं होती है. यह भी ख़ास बात है कि एक पॉट की जगह में ही आप 10 से अधिक सब्जियों के पौधे से सब्जियां प्राप्त कर सकते हैं. 

अपने बालकनी गार्डनिंग / टेरेस गार्डनिंग के सम्बन्ध में अधिक जानकारी प्राप्त करने हेतु हमें व्हाट्सऐप पर अपना नाम एवं एरिया का नाम लिखकर अभी भेजें: 9971861612, 8744089080

Hindi Article Title: Vegetable garden in , Delhi - 110002

Topics: Ready solution for Organic Gardening, Ready to use vegetable plants, Vegetable on Terrace Garden, vegetable garden in balcony, vegetable garden at home, vegetable garden plants, organic gardening for beginners, organic gardening service providers in Delhi, Best organic vegetable solutions, Kitchen garden in balcony, kitchen garden ideas, kitchen herb garden

Whatsapp us @ 9971861612, 8744089080
(For all your Balcony Gardening installation requirements, 100% organic and Ready to use, no hassles)


Vegetable gardening services in all regions of Delhi. Whatsapp us @ 9971861612, 8744089080

For all business enquiry, mail us at: [email protected]

1 टिप्पणियाँ

स्पैम न डालें - Don't Spam Please!

और नया पुराने